Posted on: August 2, 2020 Posted by: Niharika Garg Comments: 0
Sad shayari www.theeleganceart.com

man learning on concrete wall

 

खामोशियां बोल देती है

जिनकी बातें नहीं होती

इश्क तो वो भी करते हैं

जिनकी मुलाकाते नहीं होती||

Khaamoshiyaa bol deti hai

Jinki baate nahi hoti

Ishq to wo bhi karte hai

Jinki mulakaate nahi hoti

अगर तुम अजनबी हो

तो लगते क्यों नहीं

अगर तुम मेरे हो

तो मिलते क्यों नहीं||

Agar tum ajnabi ho

Toh lagte kyo nahi

Agar tum mere ho

Toh milte kyo nahi

जिंदगी में क्यो भरोसा करते हो गैरों पर,

जब चलना है खुद के ही पैरों पर||

Zindagi me kyo bharosa karte ho gero par

Jab chalna hai khud ke he pero par

कब किसका साथ निभाते हैं लोग,

हवाओं की तरह बदल जाते हैं लोग।

वो जमाना और था जब लोग रोते थे गैरों के लिए,

अब तो अपनों को भी रूला कर मुस्कुराते हैं लोग।।

Kab kiska sath nibhaate hai log

Hawao ki tarha badal jaate hai log

Wo zamana or tha jab log rote the gero ke liye

Ab to apno ko bhi rula kar muskuraate hai log

तेरी आहट, तेरा नाम, तेरा एहसास पाके,

अब कदम भी रुक जाते हैं।

तेरी याद में, तेरे इंतजार में,

अब भी हम खोए जाते हैं ।

तुझसे ना मिलने की कसमें,

तुझसे ना मिलने के वादे ,

अक्सर मौका मिलते ही
टूट जाते हैं,

जानते हैं हम!

तुम ना आओगे,

ना मिलना चाहोगे,

फिर भी तुम्हें चाहे चले जाते हैं।।

Teri aahat,tera naam,tera ehsaas paake,

Ab kadam bhi ruk jaate hai

Teri yaad me tere intzaar me

Ab bhi hum khoye jaate hai

Tujhse na milne ki kasme

Na milne ke waade

Aksar mauka milte he toot jaate hai

Jante hai hum

Tum na aaoge

Na milna chahoge

Fir bhi tumhe chahe chale jaate hai

 

ALSO READ:POEMS ON CORONA VIRUS

 

रात सुबह का इंतजार नहीं करती

खुशबु मौसम का इंतजार नहीं करती

जो भी खुशी मिले उसका आनंद लिया करो

क्योंकि जिंदगी वक्त का इंतजार नहीं करती||

Raat subha ka intzaar nahi karti

Khushboo mausam ka intzaar nahi karti

Jo bhi khushi mile uska anand liya karo

Kyoki zindagi waqt ka intzaar nahi karti

दीप मन का हर तरफ जलता नहीं

दिल ये हर किसी पर मचलता नहीं

यूं तो समुंदर भी टकराता है लहरों से

अधूरी प्यास से जी ये भरता नहीं||

Deep mann ka har taraf jalta nahi

Dil ye har kisi par machalta nahi

Yun to samandar bhi takrata hai lehro se

Adhuri pyaas se jee ye bharta nahi

 

ALSO READ:HOW TO MAKE TASTY MATAR PANEER

Leave a Comment